22.1 C
Bhopal
March 3, 2024
ADITI NEWS
सामाजिक

अशोकनगर,बैजू बावरा संगीत समारोह के समापन पर दिखे राग रंग और कत्थक नृत्य के अलग-अलग रंग

अशोकनगर। विश्व विख्यात महान संगीत साधक बैजू बावरा संगीत समारोह के अंतिम द्वितीय दिवस राजा रानी महल में रंग बिरंगी मध्यम रोशनी के बीच नृत्य ,गायन, वादन से पूरा माहौल संगीत की स्वर लहरियों से आनंदित हो उठा।कार्यक्रम की शुरुआत इंदौर से आए उस्ताद अब्दुल सलाम नौशाद खान द्वारा क्लोरोनेट के माध्यम से स्वर की सभा में संगीत का शमां बांध दिया। वही शास्त्रीय संगीत के ग्वालियर के प्रसिद्व कलाकार डॉक्टर ईश्वर रामचंद्र कर करे द्वारा अपने साथी कलाकारों के साथ सुंदर प्रस्तुति दी गई। इनके साथ तबले पर हितेश मिश्र और पखावज पर श्री जगत नारायण राम और हारमोनियम पर नारायण कांटे ने साथ दिया ।पुणे से पधारे उदय भावलकर द्वारा ध्रुपद गायन की प्रस्तुति दी गई ,आप शास्त्रीय संगीत के लिए समर्पित है। अंत में सुश्री अनु सिन्हा द्वारा उत्कृष्ट कत्थक समूह नृत्य की प्रस्तुति दी। आपको समूह नृत्य शैली में विशेष महारत हासिल है। जिसको देखकर शहर के लोगों ने भी काफी सराहना की सुश्री अनु सिन्हा और उनके साथी नवीन गावड़ा ,रवि यादव  सुश्री रूचीका,  बृजेश कुमारी द्वारा प्रथम आराध्य श्री गणपति बंदना प्रथम सिमरन श्री गणेश की सुंदर प्रस्तुति के साथ शिव स्तुति शंकर अति प्रचंड में ताल चौटाल  के साथ मंचन किया।अंत में आने वाले होली उत्सव के ऊपर होली नृत्य रंग डालूंगी डालूंगी पर हर्ष, उल्लास ,आनंद और फूलों से सरोवर करने वाला नृत्य प्रस्तुत कर फूलों की होली खेली। बैजू बावरा के दो दिवसीय संगीत उत्सव का संगीत प्रेमियों ने पूरे उत्साह के साथ आनंद लिया। कार्यक्रम का सफल संचालन ओजपूर्ण वाणी में ग्वालियर से पधारे अशोक आनंद द्वारा किया गया।

Related posts