31.6 C
Bhopal
July 16, 2024
ADITI NEWS
क्राइमसामाजिक

गांधीग्राम (बुढागर) हरे भरे वृक्षों की नर्सरी को मिटाने आमदा खान संचालक पेड़ों से सटाकर लगा दिया पहाड़ सा ढेर सरपंच ने सौंपी शिकायत रसूख के चलते अभी तक नही हुई कोई कार्यवाही

रिपोर्टर- ओम समद,गांधीग्राम (बुढागर)

हरे भरे वृक्षों की नर्सरी को मिटाने आमदा खान संचालक
पेड़ों से सटाकर लगा दिया पहाड़ सा ढेर सरपंच ने सौंपी शिकायत रसूख के चलते अभी तक नही हुई कोई कार्यवाही
गांधीग्राम (बुढागर) जबलपुर जिले के नक्शे मे शामिल खनिज संपदा से लबरेज गांधीग्राम क्षेत्र में संचालित खनिज अयस्क की खदानों के संचालकों द्वारा मनमाने ढंग से उत्खनन परिवहन व भंडारण के काम पर इनके द्वारा नियमों को रौंदने के अनेक मामले देखे जाते हैं इसी प्रकार सिहोरा तहसील की बड़ी पंचायतों मे शामिल ग्राम पंचायत गांधीग्राम के पटवारी हल्का नंबर 26 के खसरा नंबर 1542 मे लगी सरकारी नर्सरी के बाजू से संचालित जाखोडिया माइंसएंड मिनरल्स धमकी के संचालक द्वारा खदान का ओवर बर्डन यानि खदान का रा मटेरियल निकालकर सरकारी नर्सरी के लहलहाते हरे भरे पेड़ों के बाजू से पहाड़ नुमा ढेर लगा दिए गए हैं जिससे 20 वर्ष पुराने पेड़ नष्ट हो गए और अनेक पेड़ नष्ट होने की कगार पर है ग्राम पंचायत की सरपंच राधा चौरसिया द्वारा इस आशय की लिखित शिकायत जबलपुर संभाग के कमिश्नर कलेक्टर जिला खनिज अधिकारी भारतीय खान ब्यूरो एसडीएम तहसीलदार सिहोरा सहित अनेक दफ्तरों में खदान संचालक के मनमानी की शिकायत की गई परंतु खदान संचालक के रसूख व पहुंच के चलते शिकायत पत्र रद्दी कागज की टोकरी में फेंक दी गई सरपंच श्रीमती राधा चौरसिया का कहना है की जहां एक ओर पंचायती राज के तहत ग्राम पंचायतों को अधिकार संपन्न बनाने की बात की जाती है वही महीनों बीतने के बाद आला अधिकारियों द्वारा ग्राम पंचायत के जनप्रतिनिधियों की शिकायत को नजर अंदाज कर दिया गया ।
जिससे खदान संचालक के हौसले निरंतर बढ़ रहे हैं लोगों का यह भी कहना है की संबंधित विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत के कारण खदान संचालक नियम कानून को मजाक बना दिये है आपको बता दें की गांधीग्राम ग्राम पंचायत के पोषित टोला रामपुर बसाहट के किनारे स्थित यह खदान संचालन में अनेक अनियमितताएं देखने को मिल रही हैं खनन संचालक
द्वारा भूमिगत जल को व्यर्थ में भी बहाया जाता है खदान संचालक वृक्षारोपण करने की वजाय ग्राम पंचायत के द्वारा 30 वर्ष पूर्व एनएच 30 के किनारे बेहतरीन नर्सरी तैयार की गई थी जिसमें यूकेलिप्टस बांस व अन्य प्रजाति के बड़े-बड़े वृक्ष अपना विशालकाय रुप धारण कर चुके है परंतु इस वन भूमि क्षेत्र में भी खदान संचालक की नजरें गड़ी हुई हैं उसके द्वारा बड़े लंबे समय से नर्सरी के किनारे अपने स्वीकृत खदान क्षेत्र के बाहर आकर खदान से निकलने वाले रा मटेरियल के ढेर लगाए जा रहे हैं जिससे अनेक पेड़ इन ढेरों के नीचे दफन हो गए गांधीग्राम ग्राम पंचायत के पदाधिकारियों का कहना है की अगर शीघ्र ही इस
ओर शासन प्रशासन द्वारा कार्यवाही नहीं की जाती तो उग्र
आंदोलन व धरना प्रदर्शन किया जाएगा ग्राम के वरिष्ठ मोहनलाल चौरसिया राजेश त्रिपाठी ज्वाला प्रसाद दुबे ओम समद का कहना है की जहां एक और प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान पौधारोपण करा कर वायुमंडल को मजबूत करने की बात कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर खनन कारोबारियों द्वारा हरे भरे वृक्षों को नष्ट किया जा रहा है और जिम्मेदार अधिकारी अंजान बने हुए लोगों ने इस दिशा में शीघ्र ही वरिष्ठ अधिकारियों से कार्यवाही की मांग की है ।
इनका कहना है….
प्राप्त शिकायत पर तहसीलदार सिहोरा को नाप जोख करने हेतु पत्र लिखा गया है नाप के दौरान अगर स्वीकृत क्षेत्र से बाहर कार्य करना पाया गया तो प्रकरण दर्ज किया जाएगा
प्रदीप तिवारी
जिला खनिज अधिकारी जबलपुर

Aditi News

Related posts