19.1 C
Bhopal
February 26, 2024
ADITI NEWS
सामाजिक

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गोंदिया में स्व. मसानी के अंतिम संस्कार में शामिल हुए

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज गोंदिया में समाजसेवी श्री घनश्याम दास मसानी के अंतिम संस्कार में शामिल होकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। श्री मसानी मुख्यमंत्री श्री चौहान के श्वसुर थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गत 28-29 वर्ष में उन्होंने कभी भी श्री घनश्याम दास जी के व्यवहार में अहंकार को नहीं देखा। वे निष्काम और पावन हृदय से जीवन जीते हुए सभी के प्रति सदाशायी बने रहे। जीवन के आखिरी क्षण तक उनके चेहरे पर सौम्य और सरल, सहज होने के भाव परिलक्षित होते थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जब वे चौथी बार मुख्यमंत्री बने उसके पूर्व श्री मसानी भोपाल आए थे और शारीरिक अस्वस्थता के बावजूद सामान्य रूप से चर्चा करते थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वे जब खुद कोविड-19 से ग्रस्त होने पर अस्पताल में दाखिल थे तब उन्हें श्री मसानी के अस्वस्थ होने की सूचना देर से दी गई। उसके पश्चात श्री मसानी अस्पताल में उपचार लाभ प्राप्त कर घर भी आ गए थे। उन्होंने बीमारियों से लड़ते हुए अपनी जिजीविषा बनाए रखी। राष्ट्रवादी विचारधारा के प्रबल समर्थक मसानी जी 88 वर्ष की आयु में भी वैचारिक रूप से सक्रिय थे। वे व्हीलचेयर पर थे लेकिन हाल ही में दीपावली पूजा में भी शामिल हुए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि उनका स्नेह उन्हें जीवन भर मिला। ऐसे सहृदय सरल व्यक्तित्व के धनी स्व. मसानी अपनी विशेष पहचान छोड़ गए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्व. मसानी की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की ।

अंतिम संस्कार में शामिल हुए समाजसेवी, अधिकारी और नागरिकगण

मुख्यमंत्री श्री चौहान, उनकी धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह और अन्य परिजन प्रात: गोंदिया पहुंचे। इसके साथ ही स्व. श्री मसानी के पार्थिव देह को लेकर आज प्रातः एयर एम्बुलेंस गोंदिया पहुंची। अपरान्ह 4 बजे स्व. श्री मसानी जी का गोंदिया पिंडकेपार स्थित मोक्षधाम में अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम संस्कार में बड़ी संख्या में स्थानीय नागरिक, समाजसेवी और अधिकारी शामिल हुए। बालाघाट रेंज के पुलिस महानिरीक्षक श्री के.पी. व्यंकटेश्वर राव सहित कलेक्टर और एस.पी. बालाघाट भी शामिल हुए।

Related posts