13.4 C
Bhopal
November 30, 2022
ADITI NEWS
सामाजिक

दमोह(हटा)अपराधी पर रहम करने की आवश्‍यकता नहीं है – डीएसपी भावना दांगी,महिला आत्मरक्षा कार्यशाला

दमोह(हटा), नगर के शासकीय स्नातक महाविद्यालय हटा में महाविद्यालय में अध्ययनरत छात्राओं तथा महिला शिक्षकों के लिए १० दिवसीय आत्मरक्षा प्रशिक्षण एवं कार्यशाला चल रही है, प्रतिदिन अलग अलग विषय विशेषज्ञ के द्वारा छात्रो को आत्‍मरक्षा से संबंधित जानकारी दी जा रही है, कार्यशाला में दमोह जिला की महिला सेल प्रभारी डीएसपी भावना दांगी ने महिला के हित में बनाये कानून, पास्‍को एक्‍ट, अपराध कैसे घटित होता, अपराधी की प्रवृति, अपराध कारण, डायल १००, डायल १०९८ आदि के बारे में विस्‍तार से बताते हुए कहा कि महिलाओं पर घटित होने वाले अपराधों को लेकर कानून भी सक्‍त बने है, घिनौने कृत्‍य करने वाले अपराधी पर रहम करने की आवश्‍यकता नहीं है उनका स्‍थान केवल सलाखों के पीछे है, सुश्री दांगी ने छात्राओं को आत्‍मरक्षा के अनमोल टिप्‍स भी दिये, साथ ही पुलिस भर्ती, पीएससी की तैयारी कैसे करे इसकी जानकारी दी, कालेज प्राचार्य डा. पीके ढाका व कार्यशाला संयोजक प्रशांत सूर्यवंशी (क्रीड़ा अधिकारी) द्वारा डीएसपी भावना दांगी को स्मृति चिह्न भेंट किया।
अगले तकनीकी सत्र में छात्राओं और महिला शिक्षकों को आत्मरक्षा के लिए दमोह जिला में पदस्‍थ साइबर अपराध का निकाल करने वाले रमाकांत मिश्रा एवं प्रधान आरक्षक सौरभ टण्डन, राजेश अठया, आरक्षक अजीत दुबे (CYBER CRIME, ) ने सोशल नेटवर्किंग साइट जिसमें फेसबुक, व्‍हाटसेप, ऑन लाइन मार्केटिंग, बैंक से एटीएम से संबंधित अपराध को प्रोजेक्टर के माध्यम से जागरूक किया गया। सरकार के द्वारा बेटियों, महिलाओं के हित में चलाई जा रही विभिन्‍न योजनाओं की जानकारी संजीव मिश्रा महिला सशक्तिकरण अधिकारी दमोह द्वारा दी गई जिसमें महिलाओं के लिए रोजगार से जोडने उन्‍हे आत्‍मनिर्भर बनाये जाने के लिए सरकार के द्वारा जो योजनाएं वर्तमान में चल रही है उनकी जानकारी दी साथ ही कार्यशाला में
लैंगिक समानता, लैंगिक उत्पीडन एवं अपराध, पोषणहार, सुरक्षित स्पर्श, असुरक्षित स्पर्श, जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर अपने विचार रखे,
कार्यक्रम में कार्यशाला संरक्षक तथा महाविद्यालय हटा के प्राचार्य डॉ पी के ढाका, संयोजक प्रशांत सूर्यवंशी आयोजन सचिव प्रणय ठाकुर, सहायक प्राध्यापक मुकेश अहिरवार, डॉ माला हकवाडिया, डॉ शिवानी राय, तथा ग्रंथपाल आकाश कुर्मी जी एवं छात्राएं उपस्थित रही,

Related posts