19.1 C
Bhopal
December 5, 2021
ADITI NEWS
हैल्थ

व्यापार मेले में आयुर्वेद के पौष्टिक खाद्य उत्पाद होंगे आकर्षण के केंद्र, आईआईटीएफ-2021 में होगा आयुष मंत्रालय का स्टॉल

भारत-अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला (आईआईटीएफ)-2021 में हॉल नंबर-10 स्थित आयुष मंत्रालय के स्टॉल पर न्यूट्रास्युटिकल युक्त अर्थात औषधीय गुणों से भरपूर पौष्टिक वस्तुओं का एक नया समूह इस साल आकर्षण का केंद्र होगा, जो रेडी टू कूक है और यह मधुमेह, मोटापा, लंबे समय से दर्द की शिकायत तथा खून की कमी से पीड़िग मरीजों को आहार संबंधी जरूरी सहायता प्रदान करेगा।  

न्यूट्रास्युटिकल्स मुख्य रूप से भोजन के स्रोतों से प्राप्त उत्पाद हैं जो मौलिकपोषण के अलावा अतिरिक्त स्वास्थवर्धक होते हैं।पाउडर के रूप में पैक किए गए व्यंजनों को अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान(एआईआईए)के शोधार्थियों द्वारा संस्थान के एक प्रस्तावित खाद्य स्टार्ट-अप, महाभैषज्य के तहत विकसित किया गया है। एआईआईए आयुष मंत्रालय के अंतर्गत एक शोध संस्थान है।

आयुष मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “दवाओं के साथ-साथ हमें अपने आहार का भी ध्यान रखने की आवश्यकता होती है। हमारे प्राचीन ग्रंथों में भी ऐसी पाक-विधि का उल्लेख है।

इन व्यंजनों में एक कैंडी, एक क्षुधावर्धक, आटा और एक लड्डू व अन्य सामग्री शामिल हैं। पैकेट में इन व्यंजनों को बनाने की विधि और उनसे मिलने वाले स्वास्थ्य फायदे का उल्लेख होगा।

आयुष मंत्रालय के स्टाल पर नए व्यंजनों के अलावा, आयुर्वेद आहार विज्ञान पर आधारित पौष्टिक और स्वादिष्ट खाद्य पदार्थ, आयुष स्वास्थ्य चिकित्सकों के साथ मुफ्त परामर्श, योग प्रशिक्षण तथा भारतीय पारंपरिक चिकित्सा प्रणालियों पर आधारित दिलचस्प सवालों के सही जवाब देने वाले युवाओं के लिए आकर्षक उपहार अन्य आकर्षण होंगे। आगंतुक विभिन्न आयुष खाद्य पदार्थों जैसे हलवा घीवर, आंवला मुरब्बा, गुलकंद और यूनानी हर्बल चाय का स्वाद भी ले सकेंगे।

एक मेगा कार्यक्रम के तौर पर चर्चित व्यापार मेला का आयोजन हर साल व्यापार और निवेश को बढ़ावा देने तथा विनिर्माताओं, व्यापारियों, निर्यातकों और आयातकों को एक आम मंच प्रदान करने के लिए किया जाता है। मेले के आयोजन के पहले पांच दिन 14 से 18 नवंबर तक व्यापारियों और निवेशकों के लिए आरक्षित रहेंगे, जबकि 19 नवंबर को व्यापार मेला आम जनता के लिए खुलेगा।

आजादी के 75वें वर्ष में ’आजादी का अमृत महोत्सव’ अभियान के तहत आयोजित होने वाला आईआईटीएफ-2021 इस वर्ष ’आत्मनिर्भर भारत’ थीम पर आधारित है।

मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, मेले में होम्योपैथी, आयुर्वेद, सिद्ध, यूनानी और योग व प्राकृतिक चिकित्सा जैसी आयुष की विधाओं के तहत खाद्य उत्पादों और दवाओं को बढ़ावा देने के लिए अलग-अलग काउंटर होंगे।

इन विधाओं की स्वास्थ्य सेवा से जुड़े चिकित्सक भी निःशुल्क ओपीडी   परामर्श प्रदान करेंगे । आगंतुकों को विशेषज्ञ योग प्रशिक्षकों से योग सीखने का भी अवसर मिलेग।वाई-ब्रेक मोबाइल एप्लीकेशन में दिए गए योग प्रोटोकॉल का लाइव डेमो दिया जाएगा जिससे कार्यालय में काम करने वालों को उनके कार्यस्थलों पर ही सिर्फ पांच मिनट में ऊर्जावान बनने में मदद मिलेगी।

Related posts