24.1 C
Bhopal
August 18, 2022
ADITI NEWS
क्राइम

जबलपुर में सीलिंग की करीब ढाई एकड़ जमीन को भूमाफिया के कब्जे से मुक्त कराया गया

जिला प्रशासन की बड़ी कार्यवाही,आधारताल के कुदवारी में माफिया के कब्जे से मुक्त कराई पाँच करोड़ की ढाई एकड़ शासकीय सीलिंग की भूमि, 90 लाख रुपये के निर्माण भी ध्वस्त।

जबलपुर। मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार लगातार माफियाओं के खिलाफ सख्त रुख अपनाए हुए है।इसी कड़ी में आज जबलपुर में सीलिंग की करीब ढाई एकड़ जमीन को भूमाफिया के कब्जे से मुक्त कराया गया।इस जमीन पर भूमाफिया हाजी इरशाद द्वारा बनाये जा रहे तीन अवैध ड्यूप्लेक्स भी जेसीबी लगाकर तोड़ दिए गए।जमीन और अवैध निर्माण की कीमत तकरीबन 6 करोड़ रुपये बताई जा रही है।

जबलपुर जिला प्रशासन द्वारा नगर निगम और पुलिस के सहयोग से आधारताल तहसील के अंतर्गत ग्राम कुदवारी में माफिया दमन की यह कार्रवाई की गई।अधारताल इलाके के नायाब तहसीलदार संदीप जायसवाल ने बताया कि आमखेरा क्षेत्र के कुदवारी गांव में सीलिंग की लगभग तीन हजार वर्गफुट भूमि पर हुए अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया गया है। कुदवारी की इस सीलिंग भूमि पर हाजी इरशाद द्वारा अवैध कब्जा कर निर्माण किया जा रहा था। हाजी इरशाद इस जमीन पर तीन ड्यूप्लेक्स बनाकर बेचने की फिराक में था। नायाब तहसीलदार संदीप जायसवाल के मुताबिक कुदवारी में ही हाजी इरशाद ने एक कॉलोनी का निर्माण भी किया है। इसी कॉलोनी से लगी ढाई एकड़ सरकारी सीलिंग की जमीन पर उसने अवैध कब्जा कर रखा था।प्रशासन द्वारा की गई करवाई में सीलिंग की इस जमीन को भी भूमाफिया के कब्जे से मुक्त करा लिया गया।इस जमीन की कीमत 5 करोड़ रुपये बताई जा रही है जबकि तोड़े गए निर्माण की अनुमानित कीमत 90 लाख है।

Related posts