24 C
Bhopal
July 6, 2022
ADITI NEWS
धर्म

ज्ञानवापी में प्रकट हुए आदि विशेश्वर के पूजा हेतु जाने का प्रयास करने पर प्रशासन द्वारा रोक दिए जाने से क्षुब्ध स्वामी की चौथे दिन अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती महाराज की तबियत बिगड़ी

वाराणसी। ज्ञानवापी में प्रकट हुए आदि विशेश्वर के पूजा हेतु जाने का प्रयास करने पर प्रशासन द्वारा रोक दिए जाने से क्षुब्ध स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती महाराज को अन्न जल त्यागे आज तीसरा दिन हो गया है।करीब 90 घण्टे से अधिक समय हो गया है स्वामिश्री: ने अन्न जल ग्रहण नही किया है।जिससे उनके स्वास्थ में गिरावट होती जा रही है।लेकिन वे अपनी बात पर दृढ़ संकल्पित हैं उनके स्वास्थ में गिरावट को देखकर भक्तों व सनातनधर्मियों में चिंता व्याप्त हो गई है।स्वामिश्री का ब्लडप्रेशर व सुगर धीरे धीरे लो होता जा रहा है और वजन में भी तेजी से गिरावट हो रही हैं।किटोन 3 तक चला गया है तीन के नीचे जाने पर खतरा उत्तपन्न हो जाता है।किडनी ने अब पानी छानना बन्द कर दिया है।पूरे देश मे सनातनधर्मियों ने स्वामिश्री: के उत्तम स्वास्थ व शक्ति हेतु ईश्वर से प्रार्थना,हवन व यज्ञ इत्यादि करना शुरू कर दिया है।

स्वामिश्री: अविमुक्तेश्वरानंद: सरस्वती जी महाराज ने आज कहा कि जब विचारधीन कैदी को भोजन पानी दिया जाता है तो विचाराधीन शिवलिंग को पूजन व भोग क्यों नही देने दिया जा रहा।शास्त्रानुसार भी प्रकट हुए देवता को पूजन व भोग प्राप्त हो ये हर हाल में सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

आज सुबह 9 बजे समाज सेवी राकेश पाण्डेय स्वामी जी के समर्थन में बाबा विश्वनाथ तक साष्टांग दण्डवत यात्रा करने का प्रयास कर रहे थे तो उनको पुलिस ने हाउस अरेस्ट कर लिया है।जिसके बाद राकेश पाण्डेय अपने समर्थकों संग घर मे ही हनुमान चालीसा का पाठ किया।

इधर श्रीविद्या मठ स्वामिश्री: अविमुक्तेश्वरानंद जी महाराज के शिष्य ने आज लगातार स्वामी जी की ओर से प्रकट हुए आदि विशेश्वर को 1008 बार साष्टांग दण्डवत प्रणाम किया।

प्राप्त सूचना के अनुसार स्वामिश्री: के समर्थन में असि स्थित मुमुक्ष भवन में डंडी सन्यासियों ने सुबह 9 बजे पूर्वाह्न 1 बजे तक डंडी सन्यासी ईश्वरानंद तीर्थ जी महाराज व गंगा सेवा अभियानम के राकेश चन्द्र पाण्डेय जी के अगुवाई में मौन उपवास किया।

अखिल भारतीय आध्यात्मिक उत्थान मंडल की ओर से सावित्री पाण्डेय जी के नेतृत्व में सैकड़ों महिलाओं ने असि घाट पर सामूहिक उपवास व संकीर्तन किया जिसमें सैकड़ों महिलाएं उपस्थित थी।

आज दिल्ली से गौरक्षा महाअभियान समिति के प्रचारमंत्री स्वामी त्रिभुवन दास जी,संस्था के महामंत्री जय प्रकाश सनातनी जी और माता कैलाशानंद गिरी जी महाराज ने आकर अपना समर्थन प्रदान किया।

Related posts