21.1 C
Bhopal
February 5, 2023
ADITI NEWS
सामाजिक

सेंट्रल विस्टा पर ‘नारी सम्मान’ थीम के अंतर्गत राजा राममोहन राय के जीवन पर आधारित नृत्य रंगमंच का होगा आयोजन

भारत की राजधानी दिल्ली स्थित कर्तव्य पथ एवं इंडिया गेट (सेंट्रल विस्टा) पर 5 और 6 नवंबर, 2022 को आधुनिक भारतीय समाज के जन्मदाता कहे जाने वाले राजा राममोहन राय के जीवन पर आधारित एक नृत्य रंगमंच का आयोजन किया जाएगा। इस प्रस्तुति का नाम ‘युगपुरुष राजा राममोहन राय’ है। यह कार्यक्रम ‘नारी सम्मान’ थीम पर आधारित होगा, जिसे राजा राम मोहन राय पुस्तकालय प्रतिष्ठान द्वारा संचालित किया जाएगा।

संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा आज़ादी के अमृत महोत्सव की कड़ी में, राजा राम मोहन राय की 250वीं जयंती के अवसर पर 22 मई, 2022 को पूरे एक वर्ष चलने वाले उत्सव का शुभारंभ किया गया था। वहीं, अब उनके जीवन संदेशों को और अधिक व्यापक बनाने के उद्देश्य के साथ इस कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।

यह ऑडियो-विजुअल प्रस्तुति सेंट्रल विस्टा के साप्ताहिक ज्ञान और मनोरंजन अभियान की एक कड़ी होगी, जिसे देश के बेहद लोकप्रिय और सम्मानित कोरियोग्राफर नीलय सेनगुप्ता निर्देशित करेंगे। इस कार्यक्रम में 40 कलाकार हिस्सा लेंगे।

22 मई, 1772 को बंगाल के राधानगर में जन्में राजा राममोहन राय ने भारत के धार्मिक, सामाजिक एवं राजनीतिक सुधारों में एक उल्लेखनीय भूमिका अदा की। वह ब्रह्म समाज के संस्थापक थे और हमेशा आधुनिक और वैज्ञानिक दृष्टिकोण को बढ़ावा देते थे।

उनका विचार था कि धार्मिक रूढ़िवादिता सामाजिक जीवन को काफी नुकसान पहुँचाते हैं और इससे कभी लोगों का उत्थान नहीं हो सकता है। उनकी सामाजिक समानता में एक दृढ़ आस्था थी और वह जाति व्यवस्था के बड़े विरोधी थे।

साथ ही, उन्होंने महिला अशिक्षा, सती प्रथा, बाल विवाह जैसी कई सामाजिक कुरीतियों पर भी अपने प्रयासों से कड़ा प्रहार किया। उनका मानना था कि भारतीय समाज को जब तक इन अमानवीय रूपों से मुक्त नहीं किया जाता है, हमारा उत्थान संभव नहीं है। इस कड़ी में उन्होंने विधवा पुनर्विवाह और उनके संपत्ति के अधिकार में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

राजा राम मोहन राय ने सदियों पहले भारतीय समाज में बदलाव का जो सपना देखा था, माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी आज उस सपने को एक नया आयाम देने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं।

उन्होंने बीते 8 वर्षों के दौरान नल से जल, उज्जवला योजना, मातृ वन्दना योजना, सुरक्षित मातृत्व अभियान, तीन तलाक पर प्रतिबंध, सशस्त्र बलों में महिलाओं के लिए स्थाई कमीशन जैसे कई प्रयास किये हैं, जिसके फलस्वरूप देश के महिलाओं का जीवन बेहद आसान हो गया है और वे विकास की दौड़ में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रही हैं।

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने सेंट्रल विस्टा का उद्घाटन 08 सितंबर, 2022 को किया, जिसके बाद यहाँ केन्द्रीय संस्कृति मंत्रालय द्वारा नृत्य, संगीत, नाट्य जैसे विविध सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन निरंतर होता रहा है। इस दौरान महात्मा गांधी, गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर, नेताजी सुभाष चंद्र बोस जैसे कई महापुरुषों की जीवनगाथा को उजागर किया गया।

राजा राम मोहन राय के जीवन पर आधारित अगला नृत्य रंगमंच सभी दर्शकों के लिए उनके महान कार्यों, उच्च आदर्शों और जीवन दर्शन को बेहद करीब से जानने और समझने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कड़ी साबित होगी। इसके अलावा भविष्य में, इस पहल के अंतर्गत साइबर अपराध, जनजातीय गौरव, आदि जैसे विषयों से जुड़े कई कार्यक्रम होंगे। इस कार्यक्रम में सभी के लिए प्रवेश पूर्णतः निःशुल्क है।

Related posts