13.4 C
Bhopal
November 30, 2022
ADITI NEWS
क्राइम

प्राणघातक हमला करने वाले आरोपी पिता-पुत्र 24 घंटे के अंदर पुलिस गिरफ्त में

प्राणघातक हमला करने वाले आरोपी पिता-पुत्र 24 घंटे के अंदर पुलिस गिरफ्त में

थाना गोहलपुर में दिनॉक 19-11-22 की रात्रि में मारपीट में घायलों के उपचार हेतु मेडिकल कालेज में भर्ती होने की सूचना पर पहुचंी पुलिस को अजय सोनी पिता परमजीत सोनी उम्र 40 वर्ष निवासी कृष्णा कालोनी ने बताया कि उसके दो भाई है भाई जसबीर उर्फ बंटी सोनी अपनी दुकान बंद कर दमोहनाका से गुटखा लेकर अपने घर आ रहा था घर की गली में पड़ौसी प्रेमलाल नामदेव आवारा पशु को बेत डंडे से मारपीट कर रहा था तब भाई जसबीर ने प्रेमलाल नामदेव को पशुओ से मारपीट करने से मना किया तो प्रेमलाल नामदेव भाई जसबीर के साथ बेत डंडे से मारपीट करने लगा इतने में प्रेमलाल नामदेव के लड़के रामप्रकाश नामदेव एवं ओम प्रकाश नामदेव भी आ गये और तीनों हाथ मुक्को से मारपीट करने लगे, ओमप्रकाश नामदेव उर्फ मोनू ने अपनी जेब से बटनदार चाईना चाकू निकालकर जसबीर के बाये पैर के घुटने के पास मारा, जसबीर के चिल्लाने की आवाज सुनकर वह एवं उसका भाई राजेश सोनी घर से निकलकर आये बीच बचाव करने का प्रयास किये तो सभी हम तीनो के साथ हाथ मुक्के बेत डंडे से मारपीट करने लगे, ओमप्रकाश नामदेव ने हम तीनो को जान से मारने की नियत से हम तीनो पर चाकू से हमला किया जो उक्त चाईना चाकू से उसके पेट, भाई राजेश के सिर, भाई जसबीर के बाये पैर के घुटने के पास गंभीर चोटे आ गयी तभी उसका भतीजा जय सोनी आया जिसके साथ भी उक्त तीनो ने मारपीट किये है जिससे जय सोनी के बायी जाँघ में चोट आई है मारपीट कर उक्त तीनों जान से मारने की धमकी देते हुये वहाँ से भाग गये । रिपोर्ट पर धारा 307,324,506,34 ताहि. 25 आर्म्स एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया ।

*पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.)* द्वारा घटित हुई घटना को गम्भीरता से लेते हुये आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अति. पुलिस अधीक्षक शहर श्री गोपाल खाण्डेल के मार्गनिर्देशन में थाना गोहलपुर की टीम गठित कर लगायी गयी।

 

गठित टीम द्वारा सरगर्मी से तलाश करते हुये आरोपी प्रेमलाल नामदेव उम्र 57 वर्ष एवं बेटा रामप्रकाश नामदेव उम्र 35 वर्ष को अभिरक्षा में लेते हुये फरार ओम प्रकाश की तलाश जारी है।

*उल्लेखनीय भूमिका-* आरोपी पिता-पुत्र को सरगर्मी से तलाश कर 24 घंटे के अंदर पकडने में उप निरीक्षक शैलेन्द्र सिंह, सरनाम सिंह, सुरेश पटेल, प्रधान आारक्षक आशीष असाटी, धर्माजी पवार, आरक्षक हुलेश परस्ते की सराहनीय भूमिका रही।

Related posts