42.9 C
Bhopal
May 13, 2021
ADITI NEWS
सामाजिक

अमन सद्भावना शिक्षण प्रशिक्षण कल्याण समिति का दूसरा चरण पूर्ण

अमन सद्भावना शिक्षण प्रशिक्षण कल्याण समिति का दूसरा चरण पूर्ण

भोपाल आज दिनांक 8 नवंबर 2020 को अमन सद्भावना शिक्षण प्रशिक्षण कल्याण समिति द्वारा हर घर शिक्षा मिशन का दूसरा चरण पूरा किया गया इसमें बच्चों को व्यक्तिगत स्वच्छता और साफ-सफाई की जानकारी दी अच्छी आदतें सुबह उठते ही ब्रश करना प्रतिदिन स्नान करना नाखून काटना और उन्हें साफ सुथरा रखें बालों को नियमित धोऐ है कान और आंख को साफ रखें खाना खाने से पहले शौच के बाद हाथों को साबुन से धोएं मल त्याग के लिए हमेशा स्वच्छता शौचालयों का इस्तेमाल किया जाना चाहिए शौचालय की साफ सफाई नियमित रूप से की जानी चाहिए शौचालय को ढक कर रखना चाहिए इस्तेमाल के बाद उनकी सफाई अच्छे से करनी चाहिए मल त्याग के बाद साबुन और पानी से हाथ धोना बहुत महत्वपूर्ण है ताकि बीमारियों से बचा जा सके जानवरों और कच्चे खाद्य पदार्थों को संभालने के पश्चात हाथ धोना बहुत जरूरी है हाथों को साबुन और पानी के धोऐ खाद्य पदार्थ और मुंह में जाने से रोका जा सकता है साबुन और पानी की व्यवस्था शौचालय के पास किसी सुविधाजनक स्थान पर की जानी चाहिए रोगाणुओं को फैलने से रोकने के लिए। महत्वपूर्ण कार्य है कि सभी प्रकार की मल निष्ठा जिसमें मानव और जानवर दोनों शामिल हैं । निपटान सुरक्षित ढंग से किया जाना चाहिए कि वह अपना मल तयागशौचालय में करें जिससे साफ सुथरा रखें जाना की आवश्यकता है जानवरों की निष्ठा को रास्तों और बच्चों के खेलने के स्थान से दूर रखना चाहिए अपने वातावरण की सफाई रखनी चाहिए घर के भीतर प्रदूषण को रोकने या कम करने के लिए कदम उठाया जाना चाहिए अर्थात धुआ चूल्हे का इस्तेमाल ना करें घर में कूड़ेदान में कूड़ा इकट्ठा करें अपने घर के आस-पास और नल के पास पानी एकत्रित न होने दें इससे मच्छरों के पनपने को रोका जा सके
महत्वपूर्ण बातें बच्चों और किशोरों में होने वाली बीमारियां तथा मौत हद से ज्यादा रोगाणुओं के कारण होती हैं यह रोगाणु दूषित खाद्य पदार्थ पानी तथा गंदे हाथों के माध्यम से शरीर में प्रवेश करते हैं स्वस्थ बने रहने के लिए प्रत्येक व्यक्ति को चाहिए कि वह व्यक्तिगत स्वच्छता का ध्यान रखें और अपने आसपास के वातावरण को साफ सुथरा रखें और बहुत सी बीमारियां विशेष रूप से अतीसार (मल) को ,साफ सफाई की अच्छी आदतों को अपना कर रोका जा सकता है ।

Related posts