25.1 C
Bhopal
July 29, 2021
ADITI NEWS
शिक्षा

सागर नन्हे वैज्ञानिकों द्वारा बनाया गया ड्रोन कैमरा, रखेगा स्कूल परिसर पर नजर (सफलता की कहानी)

वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के कारण इन दिनों स्कूल बंद है, लेकिन एक्सीलेंस स्कूल सागर के प्राचार्य आर.के वैद्य 9वीं एवं 12वीं सहित अनेक विद्यार्थियों को मार्गदर्शन दे रहे है, कोरोना के चलते ऐसी विषम परिस्थिति में भी नन्हे वैज्ञानिक यानी कि विद्यार्थी नए-नए आयाम रच रहे हैं। ऐसे ही सफलता की कहानी एक्सीलेंस स्कूल के तीन  विद्यार्थियों की है जिन्होंने एक्सीलेंस स्कूल सागर की अटल टिकरिंग लैब में नए नए प्रयोग करना शुरू कर दिए। कार्यशाला में 12वीं क्लास में पढ़ने वाले विद्यार्थियों ने ड्रोन कैमरा बनाया और इसे स्कूल परिसर में भी उड़ाया भी। ड्रोन कैमरा को 30 फीट तक ऊंचाई पर उड़ा रहे हैं, इससे पूरे स्कूल परिसर पर नजर रखी जा रही है। यह कैमरा 3 विद्यार्थि योगेश साहू, अमन तिवारी,देवांश सोनी द्वारा बनाया गया। एक्सीलेंस स्कूल के विज्ञान के शिक्षक राजीव तिवारी ने बताया कि 7 माह से बच्चे कुछ नया करना चाह रहे थे इसलिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। शिक्षक तिवारी ने बताया कि उन्हें प्रशिक्षण दिल्ली से आए राहुल ने दिया और कार्यशाला में ड्रोन किट पहले से ही मौजूद थी। इसमें कई तरह की इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होती है जिसकी सहायता से यह कैमरा बना है, अब पूरे स्कूल परिसर और आसपास के इलाके में इससे  नजर रखी जा सकेगी।  9वीं कक्षा के विद्यार्थियों का भी रुझान बढ़ा है। कार्यशाला में नौवीं कक्षा के विद्यार्थियों को भी प्रशिक्षण दिया गया है जिसमें देवेश साहू, डालचंद ने थ्रीडी प्रिंटर से हवाई जहाज बनाया। शिक्षक तिवारी ने बताया कि जिन विद्यार्थियों का रुझान है उन्हें बारी बारी से प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

Related posts