23 C
Bhopal
September 22, 2021
ADITI NEWS
रोजगार

छिंदवाड़ा,आजीविका मिशन से जुड़कर जिले की ग्रामीण महिलाएं हो रही हैं आत्मनिर्भर और सशक्त – “खबर खुशियों की”

छिंदवाड़ा। मध्य प्रदेश डे राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन जिले की ग्रामीण महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने और उनके सुदृढ़ीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन व जिला पंचायत के सीईओ श्री गजेन्द्र सिंह नागेश के मार्गदर्शन और म. प्र. डे राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन की जिला स्तरीय टीम के निर्देशन में ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत स्व-सहायता समूहों का गठन कर उन्हें क्रेडिट लिंकेज के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराने पर समूह की महिलाएं विभिन्न तरह की गतिविधियों से जुड़़कर  सशक्त और आत्मनिर्भर हो रही हैं। विगत दिवस मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा स्व-सहायता समूह क्रेडिट कैंप के माध्यम से जिले के 203 स्व- सहायता समूह को 261 करोड़ की राशि प्रदान की गई। योजना के अंतर्गत जारी वित्तीय वर्ष में अभी तक एक हजार 565 आजीविका स्व-सहायता समूहों को 17 करोड 61 लाख 2 हजार रुपये के ऋण का वितरण किया जा चुका है। जिसे पाकर समूह की महिलाओं में खुशी की लहर है और वे पहले से कहीं अधिक आत्मविश्वास के साथ समूह द्वारा संचालित गतिविधियों को और बेहतर स्तर तक लेकर जाने के लिए उत्साहित दिखाई दे रही हैं।
         जिले के मोहखेड़ ब्लॉक के ग्राम सारोठ के  प्रगति स्व-सहायता समूह की सचिव श्रीमती सुनीता राउत कहती हैं कि आजीविका मिशन के माध्यम से समूह से जुड़कर उनमें एक अलग तरह का आत्मविश्वास आया है। वे ग्राम के आयुष्मान ग्राम संगठन की अध्यक्ष भी हैं। पहले जहां घर की चारदीवारी में जीवन बीतता था, बैंक जाकर कोई काम कराने की जानकारी भी नहीं थी। लेकिन अब वे अपनी बात भी रख सकती हैं, दूसरों को समझा भी सकती हैं और बैंक आदि के काम भी अकेले खुद कर सकती हैं। यह आत्मविश्वास और भरोसा उन्हें आजीविका मिशन से जुड़ने के बाद आया है। इसी तरह का सकारात्मक बदलाव वे अपने समूह के अन्य महिला सदस्यों में भी देखती हैं। एक अलग तरह की खुशी हम महिलाएं महसूस करती हैं। समूह की गतिविधियों से जुड़कर हम महिलाएं ना केवल आर्थिक रूप से बल्कि सामाजिक रूप से भी सशक्त और आत्मनिर्भर हो रही हैं। प्रगति स्व सहायता समूह को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा क्रेटिड कैंप कार्यक्रम में बैंक के माध्यम से 2 लाख की ऋण राशि प्रदाय की गई है। जिससे श्रीमती सुनीता और समूह के सदस्य अपनी गतिविधियों जैसे इलेक्ट्रॉनिक शॉप का संचालन, सब्जी उत्पादन, बकरी पालन आदि को और आगे बढ़ा सकेंगे। इसी तरह ग्राम सांख के गरीब स्व सहायता समूह को कृषि कार्य के लिए 5 लाख, ग्राम चारगांव के कृष्णा स्व-सहायता समूह को सब्जी व्यवसाय और कृषि कार्य के लिए एक लाख, ग्राम खुटिया के जय मां दुर्गा आजीविका स्व सहायता समूह को इमली क्रय विक्रय के लिए 5 लाख , ग्राम मेघा सिवनी के साईं राम स्व सहायता समूह को बकरी पालन के लिए एक लाख और ग्राम मालनवाडा के लक्ष्मी स्व सहायता समूह को कृषि कार्य के लिए एक लाख रुपए की ऋण राशि इन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रदाय करने पर  इन सभी ने मुख्यमंत्री श्री चौहान, जिला प्रशासन और एनआरएलएम की पूरी टीम को धन्यवाद दिया है।

Related posts