34 C
Bhopal
February 25, 2021
ADITI NEWS
Uncategorized हैल्थ

छिंदवाड़ा जिला स्वास्थ समिति की बैठक संपन्न

कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन की अध्यक्षता में आज कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक संपन्न हुई जिसमें स्वास्थ्य और महिला एवं बाल विकास विभाग की योजनाओं की समीक्षा की गई । बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्रीमती कल्पना तिवारी रिछारिया, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी डॉ.श्रीमती मोनिका बिसेन, प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुशील राठी, सिविल सर्जन डॉ.श्रीमती पी.गोगिया, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.शरद बंसोड, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.एल.एन.साहू, स्वास्थ्य विभाग के राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रमों के प्रभारी अधिकारी, बी.एम.ओ., महिला बाल विकास विभाग के एकीकृत बाल सेवा परियोजना के परियोजना अधिकारी और संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे ।  
      बैठक में कलेक्टर श्री सुमन द्वारा स्वास्थ्य विभाग के सभी राष्ट्रीय कार्यक्रमों व योजनाओं तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के सभी राष्ट्रीय कार्यक्रमों की बिंदुवार समीक्षा करते हुये निर्देश दिये गये कि दोनों विभाग संयुक्त टीम बनाकर सभी राष्ट्रीय कार्यक्रमों के डाटा को समानता के स्तर पर लाने के लिये विशेष कार्ययोजना बनाकर प्रस्तुत करें और आपसी समन्वय व सहयोग द्वारा टीम भावना से कार्य करें । साथ ही कार्ययोजना के अनुसार संबंधित चिकित्सकों, अधिकारियों और मैदानी अमले को प्रशिक्षित कर निर्धारित उद्देश्य के अनुसार योजनाओं का क्रियान्वयन कराया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने अक्षिता कार्यक्रम की कार्ययोजना के अनुसार संयुक्त विभागीय टीम के माध्यम से हितग्राहियों को चिन्हित कर उन्हें स्वास्थ्य व विभिन्न सेवाओं को प्रदाय करने के लिये कार्यो का वर्गीकरण कर जिम्मेदारी निर्धारित करने के निर्देश दिये । उन्होंने सेक्टर स्तर पर प्रति सप्ताह दिन निर्धारित कर संयुक्त बैठक आयोजित कर इस बैठक में कार्य के सभी बिंदुओं की कार्ययोजना बनाकर काम करने के निर्देश दिये। उन्होंने महिला एवं बाल विकास विभाग के सी-सेम कार्यक्रम में बच्चों के पंजीयन और एन.आर.सी.रेफरल, सी-सेम कार्यक्रम में पंजीकृत मेम बच्चों के साप्ताहिक फालोअप, पोषण पुनर्वास केन्द्र में भर्ती बच्चों की पोषण स्थिति, पोषण पुनर्वास केन्द्र में भर्ती बच्चों, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, लाडली लक्ष्मी योजना, बाल देख-रेख संस्थाओं में निवासरत् बच्चों की स्थिति, वन स्टॉफ सेंटर सखी में पंजीकृत महिलाओं व बालिकाओं और अक्षिता योजना की जानकारी भी प्राप्त की। उन्होंने सी-सेम कार्यक्रम में बच्चों के पंजीयन और एन.आर.सी.रेफरल की प्रगति कम पाये जाने पर चौरई के परियोजना अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश भी दिये । 
      बैठक में कलेक्टर श्री सुमन ने स्वास्थ्य विभाग की मातृ व शिशु मृत्यु दर में कमी लाने पर विभाग की सेवा की सराहना की करते हुये और अधिक बेहतर तरीके से स्वास्थ्य सेवायें देने के निर्देश दिये । उन्होंने राष्ट्रीय स्वास्यि कार्यक्रम के अंतर्गत ए.एन. सी. की सेवायें, एंटीनेटल केयर सर्विस, प्रसूति सेवायें, मैटरनल एंड चाइल्ड डेथ, एस.एन.सी.यू.वार्ड में बच्चों के एडमिशन, टीकाकरण, कुपोषित बच्चे व एन.आर.सी. में कुपोषित बच्चों की भर्ती, राष्ट्रीय परिवार कल्याण कार्यक्रम, राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम, एन.सी.डी.प्रोग्राम, राष्ट्रीय कुष्ठ नियंत्रण कार्यक्रम, सुरक्षित मातृत्व कार्यक्रम आदि की समीक्षा भी की। बैठक में संबंधित अधिकारियों द्वारा विभागीय योजनाओं की प्रगति की जानकारी दी गई।

Related posts