23 C
Bhopal
September 23, 2021
ADITI NEWS
क्राइम

थाना मझोली अंतर्गत युवक की हुई अंधी हत्या का 24 घंटे के अंदर खुलासा, आरोपी गिरफ्तार

मझोली। शराब पीते समय हुये विवाद पर हाथ से गला घोट कर दोस्त ने ही की थी हत्या थाना प्रभारी मझौली श्री प्रभात शुक्ला ने बताया कि दिनांक 20-7-21 की सुवह बसोरी लाल कोल उम्र 62 वर्ष निवासी ग्राम नेगई ने सूचना दी थी कि उसका बेटा दिनेश कुमार कोल कभी कभी शराब पीता है दिनांक 18-7-21 की रात लगभग 8 बजे घर के सामने दिनेश मोहल्ले के लड़कों के साथ बैठा था, बेटे के रात मे घर न लौटने पर सोचा कि मोहल्ले में होगा, दिनाॅक 19-7-21 को सुवह से वह दिनेश की तलाश गांव मोहल्ले में करता रहा पता नहीं चला आज फिर दिनेश की तलाश करते हुये सुवह लगभग 9 बजे फारेस्ट विभाग द्वारा जहाॅ जंगल मे प्लांटेशन किया जा रहा है, जंगल के अंदर खण्डर नुमा चैकी बनी है वहाॅ पहुंचे तो बदबू आ रही थी चैकी के बाहर दिनेश का फुलपेंट पड़ा दिखा चैकी के अंदर जाकर देखा तो दिनेश का शव पड़ा था शव पर कपड़े नहीं थे शव मंे मक्खियां लग रहीं थीं नाक और कान मुंह से खून निकला था उसके बेटे दिनेश कोल उम्र 22 वर्ष की मृत्यु में उसे संदेह है।

घटित हुई घटना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया, पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) के निर्देश पर पहुंचे उप पुलिस अधीक्षक अपराध श्री अशोक तिवारी एवं एफ.एस.एल. की डाॅ. सुनीता तिवारी की उपस्थति में घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण करते हुये पंचनामा कार्यवाही कर शव को पीएम हेतु भिजवाते हुये मर्ग कायम कर जांच में लिया गया।
दौरान मर्ग जांच के प्राप्त पीएम रिपोर्ट में डाक्टर द्वारा मृतक दिनेश की जीवित अवस्था में गला दबाने के कारण श्वांस गति रूकने से मृत्यु होना लेख किया है। घटना स्थल का निरीक्षण, प्राप्त पीएम रिपोर्ट पर धारा 302, 201 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए आरोपी की शीघ्र पतासाजी कर गिरफ्तारी हेतु आदेशित किये जाने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्री शिवेश सिंह बघेल एवं उप पुलिस अधीक्षक अपराध श्री अशोक तिवारी के मार्ग निर्देशन में थाना मझोली की टीम गठित कर लगायी गयी।
पतासाजी के दौरान ज्ञात हुआ कि दिनंाक 18-7-21 की शाम 7-30 बजे दिनेश कोल उम्र 22 वर्ष गांव के अपने साथी करन कोल, मोहित कोल, शेकू उर्फ शेखर कोल के साथ घर के सामने सड़क किनारे बैठा था, माॅ के बुलाने पर कहा था कि थोड़ी देर मे आता हूॅ, थोडी देर बाद रात लगभग 8 बजे जब पिता बुलाने गये तो दिनेश एवं उसके साथी नहीं मिले। दिनाॅक 19-7-21 को सुबह साथियों से पूछा गया तो कहे कि थोडी देर बाद हर उठकर हम लोग चले गये थे। यह जानकारी लगते ही करन कोल, मोहित कोत एवं शेखर उर्फ शेकू कोल को अभिरक्षा मे लेकर सघन पूछताछ की गयी तो पाया गया कि नर्सरी के भीतर पानी की टंकी के पास बैठकर दिनेश, शेखर एवं मोहित ने शराब पी, करन कोल ने शराब नहीं पी थी, थोड़ी देर बाद मोहित और करन उठकर चले गये, दोनो के जाने के बाद दिनेश पीने के बाद भूत प्रेत की बात कर रहा था, जिससे शेखर ने कहा कि मरघटाई पास में बैठे है, भूत प्रेत की बात मत कर, लेकिन दिनेश नहीं माना और विवाद करने लगा तो गुस्से में आकर शेखर ने दिनेश का गला दबा दिया जिससे कुछ ही देर मे दिनेश की मृत्यु हो गयी और शव को छिपाने हेतु पानी की टंकी के पास से खींच कर फाॅरेस्ट प्लांटेशन की खंण्डरनुमा चैकी मे ले जाकर छिपा दिया तथा पहचान छिपाने के उद्देश्य से पैंट एवं अंडरवेयर उतार कर बाहर फेंक दिया। आरोपी शेकू उर्फ शेखर कोल उम्र 22 वर्ष निवासी ग्राम नेगई को प्रकरण में विधिवत गिरफ्तार कर मान्नीय न्यायालय के समक्ष पेश करते हुये न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया।
उल्लेखनीय भूमिका – अंधी हत्या का खुलासा कर आरोपी को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी मझोली श्री प्रभात कुमार शुक्ला उप निरीक्षक लक्ष्मण प्रसाद झारिया, प्रधान आरक्षक सुरेन्द्र सिंह, हेम सिंह, आरक्षक सोम दीप, अभिषेक, गोविंद राय, अमित पटेल की सराहनीय भूमिका रही।

Related posts