23.1 C
Bhopal
October 16, 2021
ADITI NEWS
क्राइम

तेन्दूखेडा ,नाबालिग बालिका के साथ दुराचार करने वाला आरोपी 24 घंटे के अंदर पुलिस गिरफ्त में

तेन्दूखेडा । दिनांक 26.08.2021 को थाना तेन्दूखेडा में प्रार्थिया द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराई गई कि उसकी 6 वर्षीय पुत्री घर से बाहर खेलने गयी हुयी थी जो लगभग 1 घंटे 30 मिनिट तक घर नही लौटी तो तब वह पडोस में ही मंजू नोरिया के घर पूछने गयी जिस पर उसे जानकारी लगी कि वह चली गयी है उसके बाद प्रार्थिया एवं उसके परिजनों द्वारा आस-पास एवं ग्राम के अन्य क्षेत्रों में तलाश किया गया किंतु वह नही मिली। उसके बाद वह फिर से मंजू नोरिया के घर पूछताछ करने गयी तो आवज सुनकर मंजू नोरिया का लडका पुराने घर से निकला और बोला कि उसकी पुत्री घर में सो रही है। इस बात पर उसने घर के अंदर जाकर देखा तो उसकी पुत्री पलंग पर लेटी रो रही थी एवं उसके साथ गलत काम किये जाने की संभावना है। उसके द्वारा बारीकी से पूछताछ पर दुष्कर्म का संदेही अखिलेश नोरिया उम्र 19 साल घर से भाग गया। सूचना प्राप्त होने पर थाना तेन्दूखेडा पुलिस द्वारा घटना को गंभीरता को देखते हुये तत्काल मौके पर पहुचकर प्राथमिक उपचार हेतु प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र तेन्दूखेडा लाया गया जहां उसके साथ दुष्कर्म की पुष्टि होने के उपरान्त प्राथमिक उपचार कराकर जिला चिकित्सालय लाया गया जहां पर पुलिस की निगरानी में पीडित नाबालिग बालिका का उपचार कराया गया।

आरोपी के विरूद्ध तत्काल किया गया था नाबालिग से दुष्कर्म किये जाने का अपराध पंजीवद्ध :-
प्रार्थिया द्वारा उसकी 6 वर्षीय बालिका के साथ आरोपी अखिलेश नोरिया द्वारा दुष्कर्म किये जाने की थाने में सूचना देने पर आरोपी के विरूद्ध तत्काल कार्यवाही करते हुये थाना तेन्दूखेडा में अपराध क्रमांक 362/2021 धारा 363, 366, 366-ए, 376 ए,बी भादवि एवं लैगिक अपराधों से बालको संरक्षण अधिनियम 2012 की धारा 5 एम एवं 6 का अपराध पंजीवद्ध किया जाकर विवेचना में लिया गया।

फरार आरोपी की पतासाजी एवं तलाश हेतु गठित की गयी थी 04 पुलिस टीमें :-
नाबालिग बालिका से दुष्कृत्य कर फरार आरोपी अखिलेश नोरिया पिता मंजू उर्फ महेश नोरिया निवासी ग्राम पदम थाना तेन्दूखेडा की पतासाजी कर गिरफ्तार करने हेतु अति. पुलिस अधीक्षक श्री सुनील शिवहरे, अनु. अधिकारी पुलिस तेन्दूखेडा के मार्गदर्शन में 04 पुलिस टीमों का गठन कर आरोपी को तत्काल गिरफ्त में लेने हेतु निर्देशित किया गया था। उक्त पुलिस टीमों द्वारा आरोपी की पतासाजी हेतु स्थानीय मुखबिरों को सक्रीय कर जानकारी एकत्रित की गयी साथ ही तकनीकी माध्यमों की भी मदद की गयी गयी जिसके परिणाम स्वरूप जानकारी प्राप्त हुयी कि आरोपी अखिलेश नोरिया पैदल वरमान ओर जाता हुआ दिखायी दिया है एवं रास्ते में किसी आटो चालग से भी बात कर रहा था सूचना पर तत्काल पुलिस टीमों को वरमान की ओर रवाना किया गया जिससे जानकारी प्राप्त हुयी कि आरोपी ग्राम लिंगा के रास्ते ग्राम खुलरी की ओर गया हुआ है।
आरोपी ग्राम खुलरी की ओर जाने पर गठित की गयी पुलिस टीमों द्वारा आरोपी के बाहर भागने के संदेह पर ग्राम खुलरी की घेराबंदी की गयी जिस पर आरोपी अखिलेश नोरिया द्वारा पुलिस टीम को देखकर भागने का प्रयास किया गया किंतु पुलिस टीम द्वारा आरोपी का पीछा कर आरोपी को गिरफ्त में लेने में सफलता प्राप्त की गयी।

आरोपी की पतासाजी एवं गिरफ्तारी में इनकी रही सराहनीय भूमिका :-
नाबालिग बालिका के साथ दुष्कृत्य करने वाले आरोपी अखिलेश नोरिया पिता मंजू उर्फ महेश नोरिया निवासी ग्राम पदम थाना तेन्इदूखेडा की पतासाजी एवं गिरफ्तारी में थाना प्रभारी तेन्दूखेडा निरीक्षक श्रंगेश राजपूत, उनि अक्रजय धुर्वे, प्रधान आरक्षक संजय शाह, प्रधान आरक्षक पप्पू सिंह, प्रधान आरक्षक दुर्गा प्रसाद, आरक्षक मदन, आरक्षक बहादुर, आरक्षक सतेन्द्र, आरक्षक श्याम एवं आरक्षक राकेश की सराहनीय भूमिका है।

Related posts