23 C
Bhopal
September 23, 2021
ADITI NEWS
क्राइम

सुआतला,पुलिस को सफलता हासिल चौकी वरमान अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर की गयी लूट के 02 अज्ञात आरोपियों 48 घंटे के अंदर को किया गया गिरफ्तार

सुआतला । दिनांक 31.08.2021 को प्रार्थी कमलेश साहू पिता तखत साहू उम्र 68 साल निवासी वरमान कला रिपोर्ट दर्ज करायी गयी कि वह यशवंत उपाध्याय निवासी वरमान के यहां पर काम करता है जिनके द्वारा मुझसे कहा गया कि तुम सर्वेश उर्फ साहिल को लेकर राजमार्ग चले जाओ और प्रिंस अग्रवाल से 30 हजार रूपये एवं मेरा आधार कार्ड ले आओ तो प्रार्थी साहिल के साथ राजमार्ग जाकर प्रिंस अग्रवाल की दुकान से 30 हजार रूपये लेकर सर्वेश उर्फ साहिल के साथ राजमार्ग से वरमान आ रहे थे पैसो का थैला प्रार्थी के हाथ में था एवं वाहन सर्वेश चला रहा था। इसी दौरान ग्राम बीतली एवं सगरी के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर उनके सामने एक काली टी शर्ट एवं काले रंग के पेन्ट पहने एवं अपने मुंह को गमछा से ढककर एक व्यक्ति सामने से आया एवं वाहन रोककर चाकू निकाला और मुझे डराने लगा एवं मेरे हाथ से बैगनी रंग का बैग जिसमें 30 हजार रूपये रखे हुये थे छुडा लिया और मोटरसाईकिल से वरमान की ओर भाग गया।
प्रार्थी की रिपेार्ट पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध दर्ज किया गया लूट का प्रकरण:-
कमलेश साहू पिता तखत साहू उम्र 68 साल निवासी वरमान कला के साथ राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर अज्ञात आरोपी द्वारा लूट की वारदात को अंजाम देने की रिपोर्ट पर तत्काल कार्यवाही करते हुये पुलिस द्वारा अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अपराध क्रमांक 399/2021 धारा 392 भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया था।
अज्ञात आरोपियों की पतासाजी हेतु गठित की गयी थी 4 विशेष टीम:-
कमलेश साहू पिता तखत साहू उम्र 68 साल निवासी वरमान कला के साथ राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर अज्ञात आरोपी द्वारा लूट की वारदात को अंजाम देने वाले अज्ञात आरोपी की तलाश एवं गिरफतारी हेतु पुलिस अधीक्षक श्री विपुल श्रीवास्त द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार शिवहरे, एसडीओपी तेन्दूखेडा श्रीमति मेहन्नती मरावी के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी निरीक्षक सुआतला श्रीमति ज्योति दिखित, सउनि सुमित तिवारी, प्रधान आरक्षक आदित्य शर्मा, आरक्षक हस्सान रजा, आरक्षक विवेक आरक्षक सोनू, आरक्षक धर्मेन्द्र, आरक्षक शुभम, आरक्षक शैलेन्द्र, आरक्षक शशांक मिश्रा, आरक्षक अखिलेश पटैल एवं आरक्षक अभिषेक सूर्यवंशी साईबर सेल, महिला आरक्षक कुमुद पाठक की पृथक-पृथक 4 टीमो का गठन किया जाकर अज्ञात आरोपी की तत्काल पतासाजी का गिरफतार करनें हेतु निर्देश दिये गये थे।
लूट की वारदात को अंजाम देने वाले 2 आरोपियों को 48 घंटे के अंदर किया गया गिरफ्तार :-
लूट की वारदात को अंजाम देने वाले अज्ञात आरोपियों की पतासाजी एवं गिरफ्तारी हेतु गठित की गयी पुलिस टीम द्वारा कार्यवाही करते हुए आरोपियों की पतासाजी हेतु स्थानीय मुखबिरों को सक्रीय कर जानकारी एकत्रित की गयी एवं तकनीकी माध्यमों से भी पतासाजी की गयी एवं स्थानीय लोगों से पूछताछ की गयी जिसके परिणाम स्वरूप जानकारी प्राप्त हुयी कि आरोपी दीपक रजक निवासी झिरना मोहल्ला वरमान द्वारा उक्त घटना को अंजाम दिया गया है। जानकारी प्राप्त होते ही आरोपी दीपक रजक की गिरफ्तारी हेतु दबिश दी गयी किंतु आरोपी घटना को अंजाम देने के उपरान्त कही छिप गया है आरोपी दीपक रजक के संबंध में बारीकी से तस्दीक करने पर जानकारी मिली कि आरोपी वर्तमान में बस स्टेण्ड में होने की जानकारी प्राप्त हुयी जो बाहर भागने की फिराक में था पुलिस टीमों द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुये घेराबंदी की गयी पुलिस को देख दीपक रजक द्वारा भागने का प्रयास किया गया किंतु पुलिस ठीम द्वारा पीछा कर उसे गिरफ्त में ले लिया गया। आरोपी की गिरफ्तारी उपरान्त गहनता से पूछताछ पर उसके द्वारा घटना को अंजाम देना कबूल किया गया एवं उसके द्वारा बताया गया कि उसके द्वारा प्रार्थी के साथ गये सर्वेश उर्फ साहिल के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया गया है उक्त लूट की वारदात में दोनों ने मिलकर लूट की घटना को अंजाम देने की योजना बनायी गयी एवं प्रार्थी से 30 हजार रूपये की लूट की गयी।
लूट की घटना को अंजाम देने वाले दीपक रजक के साथी सर्वेश उर्फ साहिल की गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम द्वारा उसके घर पर दबिश दी गयी किंतु आरोपी सर्वेश उर्फ साहिल पुलिस को देखकर भागने का प्रयास किया गया किंतु पुलिस टीम द्वारा उसे गिरफ्त में लेने में सफलता प्राप्त की गयी। गिरफ्तारी उपरान्त पूछताछ पर आरोपी सर्वेश उर्फ साहिल ने घटना को अंजाम देना कबूल किया गया है।
लूट के अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने वाले अधिकारी एवं कर्मचारियों होगें पुरस्कृत :
राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर प्रार्थी छोटेलाल साहू के साथ लूट की घटना को अंजाम देने वाले अज्ञात आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने वाले अधिकारी एवं कर्मचारियों को पुलिस अधीक्षक श्री विपुल श्रीवास्तव द्वारा नगद पुरस्कार से पुरस्कृत करनें की घोषणा की गयी है।

Related posts