23 C
Bhopal
September 23, 2021
ADITI NEWS
रोजगार

इंदौर,पिंक बस महिला की आत्म-निर्भरता और सशक्तिकरण की पहचान – मंत्री सुश्री ठाकुर

महिला ड्रायवर रितु नरवाले और अर्चना कटारे ने थामा उम्मीदों का स्टीयरिंग

इंदौर। पर्यटन, संस्कृति और आध्यात्म मंत्री सुश्री ऊषा ठाकुर ने कहा कि महिला ड्राइवर द्वारा संचालित प्रदेश की पहली यात्री “पिंक बस” महिला आत्म-निर्भरता  और सशक्तिकरण की पहचान है। यह बात सुश्री ठाकुर ने नगर निगम आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल के साथ इंदौर में अटल इंदौर सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेस लिमिटेड द्वारा प्रदेश की पहली पिंक बस को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने के दौरान कही। सुश्री ठाकुर ने एआईसीटीएसएल को इस सेवा के लिए शुभकामनाएँ देते हुये कहा कि यह गर्व का विषय है कि इंदौर ने इस प्रकार की सेवा प्रारम्भ कर अन्य जिलों को प्रेरणा दी है। सुश्री ठाकुर ने कहा कि भविष्य में भी इस प्रकार के महिला सशक्तिकरण की विभिन्न परियोजनाओं पर कार्य किया जायेगा। इंदौर में इसके पूर्व बीआरटीएस पर नियुक्त महिला टिकट इश्यूर, पहली बार संचालित किए गए महिला ई-रिक्शा संचालन की ट्रेनिंग और अब महिला ड्राइवर के साथ यात्री बस इसके बेहतर उदाहरण हैं। 

मंत्री सुश्री ठाकुर ने पिंक बस की महिला ड्राइवर रितु नरवाले और अर्चना कटारे को शुभकामनाएँ दी और उनका उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि आज से आत्म-निर्भरता और सशक्तिकरण का स्टीयरिंग महिला ड्राइवरों के हाथों में आ गया है। एआईसीटीएसएल द्वारा महिलाओं के सशक्तिकरण, स्वावलंबन और उनकी सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुये यह सेवा शुरू की गई है। इस बस में प्रति दिन लगभग दो हजार महिलाएँ सफर कर सकेंगी। इस बस में महिला परिचालक के रूप में लक्ष्मी असवरा और पुष्पा चौहान  कार्यरत हैं।

पिंक बस में दोनों महिला ड्राइवर रितु नरवाले और अर्चना कटारे को बस चलाने का एक माह का विशेष प्रशिक्षण दिया गया है।  यह पिंक बसें सीसीटीवी कैमरे, ऑन बोर्ड यूनिट, सेंसर डोर जैसी नवीन तकनीक से युक्त है। यह बस सुबह 8 बजे से दोपहर 3 बजे तक 5 फेरे (निरंजनपुर – राजीव गांधी – निरंजनपुर) लगाएगी। इसके बाद बस का संचालन महिला परिचालक के साथ रात्रि 10:15 बजे तक किया जायेगा।

Related posts