25.7 C
Bhopal
July 21, 2024
ADITI NEWS
क्राइम

ऑनलाइन सट्टे में लाखों रुपए हारने के बाद युवक ने दोस्तों के साथ मिलकर खुद के अपहरण का वीडियो बनवाकर पत्नी को भेजा, फिरौती मांगी, और कहा- ऑनलाइन पैसे भेज दो.. पुलिस ने पूरे मामले का किया खुलासा

सट्‌टे में 6 लाख हारा, खुद का अपहरण कराया:दोस्तों से वीडियो बनवाकर पत्नी को भेजा, फिरौती मांगी, कहा- ऑनलाइन पैसे भेज दो..

ललितपुर से एक दिलचस्प मामला सामने आया है। यहां ऑनलाइन सट्टे में लाखों रुपए हारने के बाद युवक ने दोस्तों के साथ मिलकर खुद के अपहरण का नाटक किया। हाथ-पैर बांधकर और मुंह में टेप लगाकर दोस्तों से वीडियो बनवाया। फिर वीडियो पत्नी के मोबाइल पर भेजकर खुद का अपहरण होने की बात कही। 6 लाख रुपए की फिरौती मांगी।

पुलिस ने मोबाइल नंबर को सर्विलांस पर लगाया। 36 घंटे में युवक को उसके दो दोस्तों के साथ गिरफ्तार कर लिया। SP मोहम्मद मुश्ताक ने रविवार शाम पुलिस लाइन में पूरे मामले का खुलासा किया। खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 25 हजार का इनाम देने की घोषणा की। मामला कोतवाली महरौनी क्षेत्र का है।

ग्राम कुम्हेडी के रहने वाले मनोज कुमार पटेल की मां ने 4 अप्रैल को पुलिस को बेटे की गुमशुदगी की सूचना दी थी। इसके बाद पुलिस ने केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू की। इस बीच मनोज की मां ने पुलिस को बताया कि एक अनजान युवक ने वॉट्सऐप पर मैसेज और वीडियो भेजा है। इसमें उसके बेटे के अपहरण की बात कही गई है। उसके हाथ-पैर बंधे हुए हैं। मुंह पर टेप लगा है।

वीडियो में किडनैपर्स मेरे बेटे से गाली-गलौज कर रहे हैं। उन्होंने हमसे 6 लाख रुपए की फिरौती मांगी है। वीडियो सामने आने के बाद SP ने मामले के खुलासे के लिए 6 टीमें लगा दीं। रविवार को पुलिस ने मनोज के अलावा उसके दोस्त कुम्हेडी निवासी अखिलेश जोशी और ग्राम लरगन निवासी बाबा बलवान लोधी को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने मनोज से पूछताछ शुरू की। मनोज ने बताया, ”मैं ऑनलाइन सट्टा में 6 लाख रुपए हार गया था। जिसके चलते मेरे ऊपर कर्जा हो गया था। कर्ज की रकम वापस करने के लिए मैंने खुद के अपहरण और हत्या की साजिश रची। दोस्त बलराम और अखिलेश को पूरा प्लान बताया। वो लोग भी मेरे इस नाटक में साथ देने को राजी हो गए।”

‘इसके बाद मैं 3 अप्रैल को अपनी बहन के घर ग्राम सतरवास गया। वहां अपने जीजा पुष्पेंद्र निरंजन का मोबाइल बदल कर दूसरी सिम डाल दिया। फिर शाम 4 बजे घर से निकलकर अखिलेश की परचून की दुकान पर गया। यहां बलराम लोधी भी मिल गया। कैसे इस वारदात को करना है, हम तीनों ने मिलकर इसकी तैयारी की। तय हुआ कि फिरौती की रकम से अखिलेश को 50 हजार रुपए और बलराम लोधी को एक लाख 20 हजार रुपए वापस कर देंगे। बचे पैसे से अपना कर्ज चुका देंगे।

Aditi News

Related posts