24 C
Bhopal
July 6, 2022
ADITI NEWS
क्राइम

गाडरवारा पुलिस को सफलता, अंधी हत्या का खुलासा कर दो आरोपियों को किया गया गिरफ्तार, मृतक की हत्या कर साक्ष्य छुपाने के लिए शव फेंका था रेलवे ट्रैक पर।

पुलिस अधीक्षक श्री विपुल श्रीवास्तव के निर्देशन में थाना गाडरवारा पुलिस को सफलता, अंधी हत्या का खुलासा कर दो आरोपियों को किया गया गिरफ्तार, मृतक की हत्या कर साक्ष्य छुपाने के लिए शव फेंका था रेलवे ट्रैक पर।
गाडरवार।दिनांक 12/06/2022 को छोटी बाबई के पास रेलवे लाइन डाउन ट्रैक पर एक अज्ञात व्यक्ति का शव मिला । स्टेशन प्रबंधक सालीचौका की लिखित तहरीर पर थाना गाडरवारा में मर्ग क्रमांक 53/2022 कायम कर जांच में लिया गया । दौरान मर्ग जांच के अज्ञात मृतक का शव की पहचान धर्मेंद्र कहार निवासी सालीचौका के रूप में हुई । जो घटनास्थल पर पाए गए भौतिक साक्ष्य,मृतक को आई चोटो एवं पीएम रिपोर्ट के आधार पर मृतक धर्मेंद्र कहार निवासी सालीचौका की हत्या कर साक्ष्य छुपाने की दृष्टि से उसके शव को रेल्वे पटरी में रखना पाया गया । जो मर्ग जांच पर से थाना गाडरवारा में आरोपी प्रकाश कहार एवं गेंदा कहार दोनों निवासी पनागर के विरुद्ध अपराध क्रमांक 560/2022 धारा 302,201,34 भा.द.वि. का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया । जो दौरान विवेचना के वैज्ञानिक एवं तकनीकी साक्ष्य के आधार पर मृतक के मोबाइल तथा संदेहीयान के मोबाइल की कॉल डिटेल के आधार पर आरोपी प्रकाश कहार निवासी पनागर को हिरासत में लेकर तकनीकी रूप से पूछताछ करने पर प्रकाश कहार ने बताया कि धर्मेंद्र कहार की मंगेतर से उसका प्रेम संबंध होने से धर्मेंद्र कहार की लगुन के एक दिवस पूर्व अपने साथी गेंदालाल कहार निवासी ग्राम पनागर के साथ मिलकर दिनांक 12/06/2022 की रात करीबन 10:00 बजे सालीचौका आकर मृतक धर्मेंद्र कहार को दोस्तों से मिलवाने की कहकर छोटी बाबई रेलवे पटरी किनारे ले जाकर लाठी एवं धारदार हथियार से मारपीट कर हत्या कर साक्ष्य छुपाने के आशय से मृतक का शव रेल पटरी में डाल देना बताया । आरोपी प्रकाश कहार के मेमोरेंडम के आधार पर आरोपी की दुकान ग्राम पनागर में छुपा कर रखे हुए घटना में प्रयुक्त चाकू एवं घटना के समय आरोपी द्वारा पहने गए कपड़े समक्ष गवाहन जप्त किए गए । प्रकरण के गिरफ्तारशुदा आरोपी प्रकाश कहार से पूछताछ पर शेष फरार आरोपी गेंदालाल कहार को पुलिस टीम द्वारा दूधी नदी के किनारे से घेराबंदी कर पकड़ा गया । पूछताछ पर आरोपी गेंदालाल कहार ने घटना दिनांक को अपने साथी प्रकाश कहार के साथ मिलकर धर्मेंद्र कहार की हत्या कर साक्ष्य छुपाने के आशय से शव को पटरी पर डाल देना बताया,आरोपी गेंदालाल कहार के मेमोरेंडम के आधार पर मृतक धर्मेंद्र कहार का vivo कंपनी का मोबाइल एवं घटना में प्रयुक्त लाठी समक्ष गवाहन जप्त कर कब्जा पुलिस में ली गई । प्रकरण के आरोपीगण प्रकाश कहार पिता हल्कोरी कहार निवासी पनागर एवं गेंदालाल कहार पिता सुग्गा कहार निवासी पनागर को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय पेश किया गया ।

आरोपियों की गिरफ्तारी एवं पतासाजी में इनकी रही मुख्य भूमिका:-
आरोपी पतासाजी एवं गिरफ्तारी में पुलिस अधीक्षक श्री विपुल श्रीवास्तव के निर्देशन में एवं अति. पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार शिवहरे के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी निरीक्षक राजपाल सिंह बघेल ,उपनिरीक्षक हरिराम मानकर,उपनिरीक्षक अर्जुन सिंह बघेल,सहायक उपनिरीक्षक राजेश शर्मा, सहायक उपनिरीक्षक विजय पटेल,प्रधान आरक्षक आशीष मिश्रा,वरिष्ठ आरक्षक राजेंद्र पटेल,आरक्षक संतोष शर्मा ,बालकिशन रघुवंशी,ऐश्वर्य वेंकट,सुधांशु त्रिपाठी, पंकज रघुवंशी,सैनिक राजेश कौरव की मुख्य भूमिका रही है।

Related posts