25.1 C
Bhopal
July 29, 2021
ADITI NEWS
शिक्षा

गाडरवारा,स्थानांतरण नीति का इंतजार कर रहे शिक्षक

गाडरवारा। कोरोना काल मे घर परिवार से दूर अन्य जिलों में नौकरी कर रहे शिक्षक स्थानांतरण नीति का बेसब्री से इंतजार कर रहे है लेकिन इस बार अभी तक नीति जारी न होने से शिक्षको मे मायूसी देखी जा रहीं है। उल्लेखनीय है की वर्ष 2019 में प्रदेश की पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार ने 40 हजार से अधिक स्कूल शिक्षा एवं आदिम जाति विभाग में कार्यरत शिक्षको को स्थानांतरण नीति के जरिए उनके गृह जिलों में पहुंचाया था उसके बाद अभी तंक सीएम समन्वय से छुटपुट तबादलों के अलावा बड़े पैमाने पर तबादले नही हो पाए। हालांकि इस वर्ष मार्च महीने में प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कैबिनेट बैठक में 1 मई से ट्रांसफर नीति जारी करने के निर्देश दिये थे लेकिन मप्र में कोरोना की दूसरी लहर के तेज संक्रमण के चलते अभी तक स्थानान्तरण नीति नही आ सकी है। विदित हो की वर्ष 2013 एवं 2014 में हुई शिक्षक भर्ती में जिले के अनेक शिक्षको की नियुक्ति दूसरे जिलों में हुई थी एवं अन्य जिलों के बहुत से शिक्षक नरसिंहपुर जिले में नौकरी करने आये थे। चूंकि कोरोना संक्रमण से मप्र में बहुत से शिक्षक एवं उनके परिजनो का निधन हो चुका है ऐसे में अन्य जिलों में सेवाएं दे रहे नरसिंहपुर जिले के शिक्षक स्थानांतरण से जल्द गृह जिले में आना चाहते है। पड़ोसी सागर जिले में पदस्थ ग्राम बगलई के प्राथमिक शिक्षक हेमराज मेहरा ने बताया की मेरे परिवार में मेरी माताजी का स्वास्थ्य बार बार खराब हो जाता है घर से दूर रहने से अक्सर घर परिवार की चिंता सताए जाती है यदि स्थानान्तरण नीति जल्द आ जाये तो कोरोना काल मे हम लोग भी परिवार के साथ रह लेंगे। साईखेड़ा निवासी एवं सतना जिले में पदस्थ विशेष अग्रवाल ने बताया की कोरोनाकाल में हर कोई चाहता है की परिवार के साथ रहे लेकिन 2014 से लगातार अपने परिवार से दूर हूँ जल्द स्थानान्तरण शुरू हो जाये तो अच्छा रहेगा सरकार को स्थानान्तरण में दूरी को प्राथमिकता देनी चाहिए । पड़ोसी होशंगाबाद जिले में पदस्थ स्थानीय निवासी श्रीमती श्रद्धा राय एवं प्रियंका श्रीवास्तव ने कहा की महिलाओ को घर परिवार में बहुत सी जिम्मेदारियां रहती है ऐसे में दूसरे जिले में नौकरी करने में परेशानी होती है। सरकार जल्द स्थानान्तरण नीति लागू करते हुए महिलाओ, दिव्यांगों, गम्भीर बीमारी , पति पत्नी समायोजन वालो के प्राथमिकता के आधार पर एवं एक जिले से दूसरे जिले में जाने वालों के तबादले सबसे पहले करें। प्रदेश स्तर पर तबादला पीडित शिक्षको के लिए अध्यापक ट्रांसफर सेना का गठन कर चुके स्थानीय शिक्षक राधेश्याम कौरव ने कहा की अभी भी बहुत से शिक्षक साथी स्थानान्तरण न होने से परेशान है जल्द ही ट्रांसफर शुरू कराने हेतु मुहिम चालू की जाएगी। शिक्षक नायब खान, सौरभ सोनी, अशोक पटैल, सतीश गढ़वाल, लखन पटैल, नीरज पटेल, शिव कुमार पाटकर, संदीप पटेल, प्रदीप पटेल, कालूराम कौरव, भोलाराम मेहरा, भागवेन्द्र कौरव, खूबचन्द कोरी, आसिफ खान, प्रदीप पाराशर, मनोज कौरव, रामकुमार लोधी , अनुभव सैन , ज्योति कौरव, मेघा मिश्रा,नेतराज मेहरा,उत्तम सिंह मेहरा ,हेमलता पटैल,सुदर्शन जाटव, सविता मेहरा, सहित अनेक स्थानान्तरण से वंचित शिक्षक – शिक्षिकाओं ने प्रदेश सरकार से जल्द स्थानान्तरण शुरू करने की मांग की है।

Related posts